close
Gender IssuesMen's Corner

लड़के विवाह से पहले रखें इन बातों का ध्यान

    read before you get maried

    फेसबुक लाइव में प्रश्न पूछा गया था कि लड़के विवाह से पहले किन किन बातों का ख्याल रखें। मतलब कुँवारे लड़कों के लिए क्या अलार्म हो सकता है। मेरे अनुभव के हिसाब से कुछ पॉइंट्स रख रही हूँ। यह 100 % काम करेगा ऐसा कहा नहीं जा सकता पर फिर भी इसको बचाव के रूप में देखा जा सकता है – (याद रखिये इन के अपवाद मिल जायेंगे समाज में मगर सभी इतने खुशकिस्मत हो ऐसा नहीं होता )

    1) कई बहनों वाले घर में विवाह से बचें। बहनें दूसरी बहन के जीवन में ज़रूर दख़लअंदाजी करती हैं।

    2) जहाँ पिता की ना चलकर माँ की चलती हो वहां विवाह से बचें। माँ की दखल अंदाज़ी कभी सुखी गृहस्थी बसने नहीं देती।

    3) जहाँ मेरा, “रिश्तेदार यह अफसर है, हमारी उस बड़े अधिकारी से जान-पहचान है” इस तरह की बातें होती हों वहां बिलकुल शादी ना करें।
    4 ) 
    जहाँ बहुत दिखावा हो वहां भी विवाह ना करें।

    5 ) जहाँ बैंक में पैसे डालने पर ज़ोर दिया जाए वहां सतर्क रहें। आपकी इच्छा हैं चाहें तो लें या न लें अकाउंट में लेने से ५ लाख १० लाख नहीं हो पाएंगे इतना ही फायदा होगा। नहीं तो लडकी के अकाउंट में डालने को कहें।

    6) यदि प्रेम विवाह है तो ऐसी लड़की से प्रेम में न पड़े जो बात बात पर गिफ्ट मांगे।

    7) जो लड़की घड़ी – घड़ी फ़ोन कर के पूछे और आपको ज़रा भी स्पेस ना दे उससे दूर रहें।

    8) जो हद से ज़्यादा possessive हो उसको भी दूर रखें। याद रखिये आप विवाह कर रहें हैं , जेल नहीं जा रहे।

    9) शादी से पूर्व लड़की के बारे में अच्छे से पूछताछ कर लें कि लड़की को कोई मानसिक या शारीरिक समस्या तो नहीं है। ज़रा भी आशंका हो तो विवाह ना करे।

    10) याद रखिये जो बड़े बुज़ुर्ग कहते थे सिर्फ लड़की ही नहीं उसका परिवार भी अच्छा होना चाहिए। यह बात कितनी भी अजीब लगे, है सोलह आने सच।

    11) राजश्री, धर्मा, यश चोपड़ा, इम्तिआज़ अली की फिल्मे देख के शादी न करें। ऐसी लड़कियाँ सिर्फ फिल्मों में ही होती हैं।

    12) बुज़ुर्ग लोगों का कहना सही है विवाह अपने स्टैण्डर्ड में ही करें। आप गांव पृष्ठभूमि के हों और लड़की शहर की हो तो समस्या होगी।

    13) खुद शादी की इच्छा हो विवाह तभी करें किसी के दबाव में आकर कभी भी विवाह न करें। 

     – ज्योति तिवारी, पुरुष अधिकार कार्यकर्ता, लेखिका व सामाजिक सरोकार से जुड़े कार्य करती हैं. उनकी किताब ‘अनुराग‘ बेस्ट सेलर पुस्तक रही है.

    यह भी पढ़ें,

    क्या सम्बन्ध है हिन्दू विरोधी एजेंडे और फेमिनिज्म में!
    फेमिनिज्म- घृणा पर आधारित विघटनकारी मानसिकता
    पैसे कमाना बनाम परिवार पालना
    क्यों बिगड़ रहे हैं युवा? क्या सुधारने का कोई रास्ता है?
    Tags : FeaturedFeminismGender Issue in IndiaMen's right
      Jyoti Tiwari

      The author Jyoti Tiwari

      Jyoti Tiwari has co-authored research reports to Govt.Of India and has appeared on international radio shows as well for creating awareness about the issues that men go through. She is a published author of the book Anuurag which is a bestseller.

      Leave a Response

      Loading...